0

जन्माष्टमी और श्री कृष्णा द्वारा बताई गई ज्ञान की बातें – हम भक्तों के लिए वरदान हैं

sree krishna janmashtmi 2018

जन्माष्टमी, तिथि – मुहूर्त,  और मान्यता हम सब के प्रिय, भगवान विष्णु के आठवें अवतार श्री कृष्णा जी के जन्म दिवस को दुनिया भर के भक्त जन्माष्टमी के रूप में मनाते हैं। भगवान् श्री कृष्णा की जन्माष्टमी इस वर्ष ३… Continue Reading

0

राखी के हर धागे में बंधा हैं भाई बहन का प्यार – हैप्पी रक्षा बंधन

raksha bandhan

भाई और बहन के प्यार को समर्पित हैं रक्षा बंधन रक्षा बंधन दुनिया के हर भाई और बहन के पवित्र रिश्ते को समर्पित हैं।  भाई बहन का रिश्ता ऐसा हैं, जिसमे प्यार, ज़िम्मेदारी, अपनापन, शरारत, दोस्ती, देखभाल और रक्षा सुरक्षा… Continue Reading

0

नारियल – आस्था, भक्ति और आदर्श जीवन जीने का प्रतीक है

nariyal aastha aur pavitrata ka roop hai

नारियल को हम आस्था, भक्ति और उच्च जीवन का प्रतीक क्यों मानते हैं ? नारियल एक ऐसा फल हैं जिसे हम प्राचीन काल से देवी देवताओ को प्रसाद के रूप में समर्पित करते आये हैं।  नारियल के पानी से शुद्धिकरण… Continue Reading

0

क्षमा करना और भूल जाना एक ईश्वरीय गुण है

forgive is God

हमेशा खुश रहना चाहते है, तो क्षमा करना और भूलना सीखिए हर इंसान अपने अंदर एक ऐसा बोझ रखता है,जिससे उसका सुख चैन सब खो जाता हैं । गलती किसी की भी हो अगर हम उसे माफ़ कर सके और… Continue Reading

0

इंसानियत पहले है और धर्म बाद में (Humanity is greater than any religion )

example of humanity

इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं पहले इंसान आया की पहले धर्म आया ? इस बात पर अलग अलग धर्म के मत अलग अलग हो सकते हैं और यह एक विरोधाभास का विषय हैं। मुद्दे की बात यह है की… Continue Reading

0

जहाँ मतलब हो वहां दोस्ती नहीं होती – श्री कृष्णा (Happy Friendship Day)

Happy friendship Day

सच्ची दोस्ती में ‘मतलब’ की जगह नहीं होती एक बार सुदामा ने कृष्णा जी से पूछा की दोस्ती का असली मतलब क्या होता है? इस पर हँसते हुए श्री कृष्णा ने कहाँ जहाँ मतलब हो वहां दोस्ती कहाँ होती हैं। श्री… Continue Reading